11.73 लाख के यूरो लावारिस मिले, एयरपोर्ट डायरेक्टर ने दिया अनमोल तोहफा

0
1295

जयपुर। रकम बड़ी हो और मन छोटा तो कोई भी अपना जमीर खो सकता है। लेकिन ईमानदारी आज भी जिंदा है। जमीर अब भी खोया नहीं है और मन अब भी बड़ा है। एक ऐसी ही बानगी देखने को मिली जयपुर हवाई अड्डे पर। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जयपुर हवाई अड्डे पर सबसे ज्यादा चर्चा अगर किसी की थी तो वह सुमन और उसको मिले 11.73 लाख के यूरो की थी।

हवाई अड्डा प्राधिकरण, जयपुर के हाउस कीपिंग स्टाफ में कार्यरत सुमन को स्वतंत्रता दिवस के समारोह में जिस तरह हवाई अड्डा प्राधिकरण और निदेशक की ओर से सम्मानित किया गया वह देखने लायक था। जयपुर एयरपोर्ट पर सुमन को हाल ही यूरो का एक बंडल टॉयलेट पेपर में लिपटा मिला। सुमन ने जब उसे खोला तो उसमें लाखों के यूरो थे। सुमन चाहतीं, तो चुपके से उन्हें हवाई अड्डे से बाहर ले जा सकती थीं। लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया और तुरंत टर्मिनल मैनेजर को सूचना देते हुए यूरो जमा करवाए। सरकारी कार्यवाही हुई। मालिक की तलाश भी हुई। लेकिन इन यूरो को लेने वाला कोई नहीं आया। इधर सुमन के बड़े दिल वाले कदम का जब एयरपोर्ट पर कर्मचारियों को पता चला, तो एक के बाद एक सुमन को बधाई देने का सिलसिला सा चल पड़ा। सुमन की ईमानदारी और उनकी खुद्दारी देखते हुए एयरपोर्ट डायरेक्टर जयदीप सिंह बलहारा ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सुमन को विशेष रूप से सम्मानित किया। इस पूरे कार्यक्रम में सुमन की वाह-वाही देख कर वाकई साफ नजर आ रहा था कि ईमानदारी आज भी जिंदा है और ऐसे लोग आज हमारे आस-पास हैं जो लालच में अपना जमीर नहीं खोते।