Home » Archives by category » World News (Page 3)
आई.ए.एस. की पहल रंग लाई, करौली में काले हिरणों का बनेगा रेस्क्यू सेंटर

करौली। काले हिरणों की सुरक्षा को लेकर प्रशासनिक गंभीरता की ताजा मिसाल हैं करौली कलक्टर मनोज कुमार शर्मा के प्रयास। यह शर्मा के प्रयासों का ही नतीजा है कि करौली में हरनिया-बिनेगा क्षेत्र में काले हिरणों की सुरक्षा के लिए रेस्क्यू सेंटर को हरी झंडी मिल गई है। अपने कामकाज के अलग अंदाज के लिए […]

Continue reading …
कैसे करें पुलिस में शिकायत – पंकज चौधरी, आई.पी.एस.

कैसे दर्ज होती है एफ.आई.आर.? 1. पीडि़त सीधा थाने जाकर अपने लिखित अथवा मौखिक बयान पर एफ.आई.आर. दर्ज करा सकता है। 2. पी.सी.आर. कॉल से मिली खबर की तफ्तीश कर एफ.आई.आर. दर्ज की जा सकती है। 3. यदि पुलिस एफ.आई.आर. दर्ज करने से इंकार करे, तो कोर्ट के माध्यम से सी.आर.पी.सी. की धारा 156 (3) के तहत […]

Continue reading …
ये आई.ए.एस. नहीं, घूसखोरों के खिलाफ जलजला हैं

चेन्नई। माफिया हों या नेता, उनसे सब कांपते हैं। खनन माफिया, बजरी माफिया, घूसखोर और सिस्टम से लड़ते-लड़ते वह अब तक 20 से ज्यादा तबादलों का शिकार हो चुके हैं। लेकिन परवाह करना उनकी आदत में नहीं। इस दिलेर आई.ए.एस. यू. सागायम से न केवल सिस्टम भी सोच समझ कर बात आगे बढ़ाता है, बल्कि […]

Continue reading …
सुपरहिट हैं आईएएस बी. चंद्रकला

भोपाल से वंदना दवे। हॉलीवुड और बॉलीवुड स्टार्स ही नहीं, ब्यूरोक्रेट्स भी हमारे देश में सुपरहिट हैं। कुछेक तो ऐसे कि बॉलीवुड स्टार्स भी उन ब्यूरोक्रेट्स की सुर्खियों से जलभुन जाते होंगे। जी हां। वो न राजनेता हैं, न फिल्म स्टार और न ही खेल जगत का कोई जाना पहचाना नाम, लेकिन फिर भी मिनटों […]

Continue reading …
राजस्थान कैडर की बजाय गुजरात या उत्तराखण्ड कैडर – पंकज चौधरी, आईपीएस

प्रकृति किस प्रकार से आपका भविष्य निर्धारित करती है? उसका आभास हम नहीं कर सकते हैं। मध्यम वर्गीय परिवार मेें जन्म लेना अपने आप मे परीक्षा की घड़ी होती है। इस वर्ग के सपनों की उडान में कई उतार-चढ़ाव मिलता है। मुझे याद है, जिस वर्ग, सम्प्रदाय से मैं आता हूं, उसमें दूर-दूर तक भारतीय […]

Continue reading …

Then and now – C.K.Mathew, Former C.S. Rajasthan

Comments Off on Then and now – C.K.Mathew, Former C.S. Rajasthan
Then and now – C.K.Mathew, Former C.S. Rajasthan

I had the occasion to visit the National Academy of Administration, Mussoorie a few weeks ago. We were there to make a presentation to the newly promoted IAS officers on serious issues of governance and administration. It was a long and exhausting trip from Bangalore, via Delhi and Dehradun. We reached around 9 in the […]

Continue reading …

साहब आप आईपीएस की जगह आईएएस ? – पंकज चौधरी, आईपीएस

Comments Off on साहब आप आईपीएस की जगह आईएएस ? – पंकज चौधरी, आईपीएस
साहब आप आईपीएस की जगह आईएएस ? – पंकज चौधरी, आईपीएस

वर्ष 2009 मई माह में सिविल सेवा परिणाम आया। परिणाम में मुझे मेरी पहली च्वाइस आईपीएस प्राप्त हो गया। बधाईयों एवं मिलने का दौर शुरू हुआ। इसी क्रम में मेरा कानपुर जाना हुआ। कानपुर में तैनात आईपीएस धर्मेन्द्र सिंह जो एएसपी पद पर ही कार्यरत थे, मिलने पहुंच गया, विचार विमर्श हुआ, पुलिस सेवा पर […]

Continue reading …

हम खुशियों की तलाश कर सकते हैं – अंजू शर्मा, आईएएस

Comments Off on हम खुशियों की तलाश कर सकते हैं – अंजू शर्मा, आईएएस
हम खुशियों की तलाश कर सकते हैं – अंजू शर्मा, आईएएस

खुश रहने के लोग सैंकड़ों उपाय तलाशते हैं, लेकिन खुशी तो हमारे भीतर ही है। समस्याएं, दुविधाएं सबके समाधान भी हमारे भीतर ही हैं, जरूरत है, तो बस इन्हें तलाशने की। गुजरात काडर की 1991 बैच की आईएएस अंजू शर्मा इन दिनों स्पीरिच्युअल इंटेलीजेंसी पर गहराई से अध्ययन पर जुटी हैं, लेकिन उनकी पहली पुस्तक […]

Continue reading …

कैप्टन राधिक मेनन को मिलेगा आईएमओ पुरस्कार

Comments Off on कैप्टन राधिक मेनन को मिलेगा आईएमओ पुरस्कार
कैप्टन राधिक मेनन को मिलेगा आईएमओ पुरस्कार

भारतीय मर्चेंट नेवी की पहली महिला कप्तान राधिक मेनन को प्रतिष्ठित आईएमओ पुरस्कार मिलने जा रहा है। ऑयल प्रोडेक्‍ट्स टैंकर संपूर्ण स्‍वराज्‍य की मास्‍टर कैप्‍टन राधिका मेनन समुद्र में असाधारण बहादुरी का परिचय देने पर 2016 के इंटरनेशनल मेरीटाइम आर्गेनाइजेशन पुरस्‍कार प्राप्‍त करेंगी। यह पुरस्‍कार उन्‍हें पिछले वर्ष जून में बंगाल की खाड़ी में अस्थिर समुद्र […]

Continue reading …

समाज का अपराधिकरण : पुलिस एवं मीडिया – पंकज चौधरी, आईपीएस

Comments Off on समाज का अपराधिकरण : पुलिस एवं मीडिया – पंकज चौधरी, आईपीएस
समाज का अपराधिकरण : पुलिस एवं मीडिया – पंकज चौधरी, आईपीएस

राजनीति का अपराधिकरण, अपराध का राजनीतिकरण आदि वाक्य दशकों पुराने हो गए। जब सिविल सेवा की तैयारी करने उत्तर प्रदेश से वाया उत्तरांचल, दिल्ली पुलिस कप्तान बनने का ख्वाब लिए वर्ष 1999 में पहुंचा, तो उपरोक्त वाक्य काफी सोचने को विवश करते थे, चर्चा का विषय अमुमन होते थे। वक्त बीतता गया, दो दशकों उपरान्त […]

Continue reading …