17 साल के ध्रुव ने दुनिया को चौंकाया!

0
18

दुबई। ध्रुव ! दुबई में एक भारतीय नाबालिग, जिसने बड़े-बड़े वैज्ञानिकों को हिला डाला है। इसी महीने 17-18 फरवरी को द्रोन फॉर गुड्स प्रतिस्पर्धा में ध्रुव दुनिया के बड़े रोबोटिक प्रोफेशनल्स से टक्कर लेने जा रहा है। माना जा रहा है कि 1 मिलियन डॉलर्स की इनामी राशी के बड़े दावेदारों में भारतीय मूल का ध्रुव कार्तिक शिखर पर है।

दुनियाभर से प्रतियोगिता में विभिन्न विश्वविद्यालयों के प्रोफेसर्स, युवा खोजकर्ता, ग्रेजुएट्स और रोबोटिक प्रोफेशनल्स शामिल होने जा रहे हैं। इसी प्रतियोगिता में ध्रुव का फायरफ्लाई टाइटल वाला द्रोन पेश किया जाना है। जानकारी के अनुसार बुर्ज दुबई के निचले क्षेत्र में करीब एक साल पहले 2015 की नववर्ष की शाम को लगी आग ने ध्रुव को एक बड़ी खोज के लिए प्रेरित किया। आग से बचने के लिए मददगार ध्रुव का यह प्रोजेक्ट फिलहाल दुनिया की नजर में आ तो चुका है, बस अब बड़ी खोज को बड़ा मंच मिलने की तैयारी होने जा रही है। ध्रुव का यह प्रोजेक्ट विश्वभर के इंजीनियरिंग क्षेत्र के 12000 प्रोजेक्ट्स में से शीर्ष 50 में शामिल किया जा चुका है।

ध्रुव कार्तिक को इंस्पीरेशनल टेक्नोलॉजी एन्टरप्रेन्योर के तौर पर खास पहचान हासिल हुई है। कंप्यूटर साइंस, रोबोटिक और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस में रुचि रखने वाले धु्रव कहते हैं, मैं पर्यावरण पर काम करना चाहता था, जिससे लोग प्रोत्साहित हों। लेकिन मेरी यह खोज दुनिया में अपनी क्षेत्र की तस्वीर बदल कर रख देगी।

– पृथ्वी सिंह, दुबई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here