IAS मौसा की लड़ाई, मां का दर्द और पुलिस की बेरुखी! IAS के सीधे आरोप – ‘फोरेंसिक जांच हो, संदिग्ध है पुलिस की भूमिका’

0
854

जयपुर। राजस्थान काडर के आई.ए.एस. सल्वेन्द्र सिंह सोहता के भांजे की आत्महत्या हत्या के 18 दिन बाद भी परिवार और सोहता न्याय के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं। आदित्य के माता-पिता बामुश्किल ऑफिसर्स टाइम्स ने बात करने को तैयार हुए लेकिन स्कूल प्रबंधन द्वारा तथ्यों के साथ घालमेल करने और अब पुलिस की भूमिका संदिग्ध होने के पुख्ता दावे परिवार की तरफ से किए गए हैं। ऑफिसर्स टाइम्स से एक्सक्लूसिव बातचीत में आई.ए.एस. सोहता और उनके परिवार ने आपबीती बताई, जिसमें सीधे तौर पर पुलिस को भी कटघरे में खड़ा किया गया है।

इधर स्कूल प्रबंधन से भी ऑफिसर्स टाइम्स ने बातचीत करनी चाही, लेकिन प्रबंधन के लोग अब भी अपनी दबंगाई दिखाते नजर आए। स्कूल के फोन पर संपर्क किया गया तो, सवाल पूछने की बात आने से पहले ही अंकित जैन व्यस्तता का बहाना मारते हुए चलते बने। असंवेदनशीलता की हदें तोड़ता बंसल स्कूल प्रबंधन अपनी गलतियां छुपाने के लिए अब मुंह छिपाता फिरने लगा है। दूसरी तरफ सोशल मीडिया सहित निजी स्तर पर बड़ी तादाद में आई.ए.एस. सोहता के समर्थन में पब्लिक उतर आई है।