सफल भारतीय लोकतंत्र की पुस्तकें पढि़ए – पाकिस्तान आर्मी चीफ

0
109

रावलपिंडी। पाकिस्तान आर्मी चीफ जनरल ऊमर जावेद बाजवा ने अपनी सेना को बीते सप्ताह नसीहत देते हुए कहा है कि वह भारतीय लोकतंत्र की सफलता से जुड़ी पुस्तकें पढ़ें। पाकिस्तान आर्मी चीफ जावेद के अनुसार पाकिस्तान की सेना को भारतीयों से जुड़े उस साहित्य को पढऩा चाहिए जिसमें भारतीय सेना कभी सरकार चलाने का प्रयास नहीं करती। सरकार चलाना सेना का काम नहीं होता।

रावलपिंडी में जनरल हैडक्वार्टर ऑडिटोरियम में अपने बतौर आर्मी चीफ पहले संबोधन में कड़ी नसीहतें सेना को दी। जावेदन ने अधिकारियों को इस संबंध में येल युनिवर्सिटी के भारत एवं दक्षिण एशिया अध्ययन केन्द्र में प्रोफेसर स्टीवन आई. विल्किंसन की पुस्तक आर्मी एण्ड नेशन : द मिलिक्ट्री एण्ड इंडियन डेमोक्रेसी सिंस इंडीपेंडेंस को पढऩे की राय तक दे डाली। जावेद ने कहा कि यह पुस्तक 2015 में आई और भारत सहित पूर्वोत्तर में इसके बारे में काफी कुछ छापा गया है। जिसमें साफ बताया गया है कि किस तरह भारतीय राजनीति से सेना को दूर रखा गया है। लेकिन भारत इसमें कामयाब रहा है, जबकि कई देश इससे अब भी जूझ रहे हैं। जावेद ने कहा कि इसके अलावा भी भारतीय समाचारों और पुस्तकों को हमें पढऩा चाहिए। जावेद ने अपने अनुभव बताते हुए कहा कि मैं 1992 में लाइन ऑफ कंट्रोल पर सेवाएं दे चुका हंू और भारत में मेरी रुचि तब से ही है।