बूंदी कलक्टर शिवांगी ने इसी महीने सौंपा संपत्ति का ब्योरा

1
254

जयपुर। राजस्थान काडर के आधा दर्जन से ज्यादा आई.ए.एस. अधिकारियों के सरकार को अचल संपत्तियों का ब्योरा नहीं सौंपने की सरगर्मियां तेज हैं। कई सवाल खड़े हो रहे हैं, तो कई सवालों की जवाब तलाशते गलियारों में चर्चे आम हो रहे हैं। इधर जानकारी में आया है कि बूंदी कलक्टर और 2011 बैच से ताल्लुक रखने वाली शिवांगी स्वर्णकार ने अपनी अचल संपत्तियों के ब्योरे संबंधी जानकारी इसी महीने 05 जून को संयुक्त सचिव को भेज दी हैं, लेकिन केन्द्र की तरफ से शिवांगी की डिटेल अभी तक संबंधित पोर्टल पर अपडेट नहीं की गई हैं।

इस संबंध में ऑफिसर्स टाइम्स को शिवांगी स्वर्णकार के दोनों डॉक्यूमेंट आज प्राप्त हुए हैं, जिनसे जाहिर है कि शिवांगी ने अपनी संपत्तियों का ब्योरा सरकार को सौंप दिया है। अब काडर में नौ आई.ए.एस. अधिकारी शेष हैं, जिन्होंने अभी तक सरकार को या तो जानकारियां सौंपी नहीं है। इन नौ अधिकारियों में 1980 बैच के अशोक शेखर, 1984 बैच की रश्मि प्रियदर्शनी, 2002 बैच के पूसा राम पंडत, 2003 बैच के जगदीश चंद पुरोहित, 2003 बैच के नीरज के. पवन, 2006 बैच के वी.एस. कुमार, 2011 बैच के एन.एस.पी. मदान, 2012 बैच के विक्रम जिंदल तथा 2013 बैच के जी.पी. केशवराव शामिल हैं। गौरतलब है कि अपनी अचल संपत्तियों का ब्योरा नहीं सौंप रहे अधिकारियों की जानकारी ऑफिसर्स टाइम्स को मिलने के बाद मामला ( नीरज पवन सहित 10 आई.ए.एस. नहीं दे रहे प्रॉपर्टी का ब्योरा ) उठाया था।