IAS के कंधे पर चावल की बोरी, जिसने देखा बोल पड़ा – क्या ऐसे भी होते हैं IAS

0
5521

केरल। बाढ़ से पूरा केरल त्रस्त है। तबाही के मंजर यहां आंखों में डर बिठा देने वाले हैं। परेशानियां प्रशासन के माथे चढक़र बैठी हैं। कोई पीडि़त है, तो कोई उसकी पीड़ा मिटाने के लिए जूझता नजर आ रहा है। ऐसे में समस्याओं से निपटने के लिए जो कोई भी मददगार साबित हो सकता है, अपना रोल अदा कर रहा है। लोग अकसर सिस्टम को दोष देते नजर आते हैं। लेकिन केरल में बाढ़ से बिगड़े सिस्टम को सुधारने के लिए जब आई.ए.एस. ही चावल की बोरी कंधे पर लादे नजर आए, तो हर किसी का मन पसीज गया।

केरल के दो युवा आई.एस.एस. अधिकारियों की तस्वीरें वायरल हो गई हैं। रात के अंधेरे में जब लोग अपने घरों में सोने की तैयारियों में जुटे थे करीब 9.30 बजे आई.ए.एस. जी. राजामनक्कियम और आई.ए.एस. एन.एस.के. उमेश कंधे पर चावल की बोरियां लाद कर कलेक्टे्रट परिसर में रख रहे थे। जी. राजामनिक्कियम फिलहाल केरल के वायनाड़ जिला कलक्टर हैं और उनके साथ फोटो में वायरल हुए आई.ए.एस. एन.एस.के. उमेश सब-कलक्टर हैं। खास बात यह भी रही कि रात में जब कार्यालय में कर्मचारियों की कमी थी, तो इन दोनों आई.एस.एस. अधिकारियों ने चावल और खाद्य सामग्री से भरी गाड़ी चुनिंदा कर्मचारियों के साथ मिलकर खाली करवाई।